जब भी तेरी याद आती है

एक आस पास में आती हैऔर कान में चुपके से कह जाती है,क्या अब भी बचा है प्यार…अभी बता दोअभी बता दो,क्योंकिइस बारउम्मीद का बल्बदिल को रोशन करने मेंथोड़ा ज़्यादा समय लेगा।

बीच की दुनिया

हम दोनों के बीच एक दुनिया है,यह दुनिया ऐसी ही चलती रहेगुस्सा ना हो जाएइसलिए हमने दूर होने का सोचापर जैसे ही पहले से दूर हुए तोइस दुनिया ने हमारा दर्द भी समेट लियाशायद पास आते तो ज़्यादा प्यार समेट लेतीजो दुनिया के गुस्से से लड़ने में मदद करता।

बॉम्ब स्क्वाड का कुत्ता

एक बार बॉम्ब स्क्वाड के कुत्ते से मैंने पूछातुम्हें बारूद ढूंढते हुएइब्राहीम के इत्र की खुशबू अायीया शिव के धतूरे कीवह गुराया…मैं पीछे हटाउसने गुस्से में जवाब दियामुझे तो बसउन दोनों के बीचनफ़रत फैलाने वालेकी बदबू अायी।

Heart Inc.

When we are in loveWith oneself or someone elseThere are some workers in our heartWho process everything we feelInto a thing of beautyBut when our heart is brokenDoes these workers go on a lockdownDoes the creation of beauty comes to a haltNot really,It just slows downAs the workers now divideOne half keep creating beautyStimulated byMemesContinue reading “Heart Inc.”

If World Loses Its Heart

If world loses its light What will I do with morning What will I do with summer I will retreat in you If world loses its colour What will I do with dusk What will I do with spring I will mix with you If world loses its melody What will I do with raindropsContinue reading “If World Loses Its Heart”

‘Pyaar’ Ka Ek Khat ‘Nafrat’ Ke Naam

Dear Nafrat, Tum dimaag pe chadte ho Main dil main utarta hu Tum apne dangon ke dhuyein se Mera chaand chupa lete ho Phir bhi main kuch nahi kehta Koshish jab do dilon ko jodne ki hoti hai Do hazaar saal phele ki dalilein tum aage le aate ho Samajh nahi paate hain log mujheContinue reading “‘Pyaar’ Ka Ek Khat ‘Nafrat’ Ke Naam”